November 27, 2020

सदाबहार गीतों पर थिरक उठे लोग, कविताओं पर बजी तालियां, प्रतिभाओं ने दिखाया जलवा

सदाबहार गीतों पर थिरक उठे लोग, कविताओं पर बजी तालियां, प्रतिभाओं ने दिखाया जलवा

कोई गीत गुनगुना रहा था तो कोई गीत संगीत की धुन पर थिरक रहा था और मंच पर चढी प्रतिभाएं अपने हुनर से सबको आनंदित कर रही थी. कोरोना महामारी और लॉकडाउन के दरम्यिान काफी समय बाद कसया में एक ओपन माइक इवेंट का आयोजन हुआ, जिसमें स्थानीय प्रतिभाओं ने बढ चढकर हिस्सा लिया। मौका मिलते ही किसी ने गीत सुनाया तो किसी ने कविताओं से सबको भाव विभोर कर दिया। यह आयोजन दी मंचकी तरफ से बाबा फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट की तरफ संस्थान में किया गया. इस दौरान आयोजित ओपन माइक इवेंट में युवाओं ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। ईवेंट के आयोजक देवेन्द्र सिंह राजपुत ने बताया कि इस तरह के आयोजनों से स्थानीय प्रतिभाओं को प्रोत्साहन मिलता है आगे भी इस तरह के आयोजन किए जाते रहेंगे।शौर्य केसरी ने कहा कि यह एक ऐसा मंच है जहाँ युवा अपने अंदर छिपी प्रतिभा को लोगों के समक्ष प्रस्तुत कर सकते हैं।आयोजकों में से एक शशांक राय ने कहा कि कोरोना काल में प्रतिभाओं को आगे लाने के लिए यह एक छोटा सा प्रयास किया गया. कार्यक्रम में शहर के अनेक युवा कवि, कलाकार, संगीतकार एवं मिमिक्री आर्टिस्टों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संजय केशरी और उनकी धर्मपत्नी गीता केशरी मौजूद रहे. इस दौरान अंश पांडे ननिहाल उत्कर्ष विकास भी मैजुद रहे । चंद्रजीत, निखिल, मनन, साक्षी एवं अभिषेक को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में अनुराग सिंह, शशांक राय, हर्ष,अमन,शिवम,निर्भया,दीपक, आशुतोष जायसवाल, हर्षित, ऋतिक, अर्पिता केशरी इत्यादि मौजूद रहे ।​